30 Best Inspirational Quotes by Amrita Pritam | Amrita Pritam Quotes

Inspirational Quotes by Amrita Pritam: Amrita Pritam was an Indian novelist, essayist and poet, who wrote in Punjabi and Hindi. She is considered the first prominent female Punjabi poet, novelist, essayist and the leading 20th-century poet of the Punjabi language, who is equally loved on both sides of the India–Pakistan border.

अमृता प्रीतम का जन्म पाकिस्तान के गुजरांवाला में 31 अगस्त 1919 को हुआ था। निधन 31 अक्टूबर 2005 को हुआ। Reference https://en.wikipedia.org/. Inspirational Quotes by Amrita Pritam


Amrita Pritam Quotes in Hindi

झूट के रास्ते पर बेहद फिसलन है

जाने किस समय किस अहसास का पैर फिसल जाये

amrita pritam love quotes in hindi | amrita pritam quotes hindi | amrita pritam best lines in hindi

 


मैं दिलके एक कोने में बैठी हूँ

तुम्हारी याद इस तरह आयी

जैसे गीली लकड़ी मे से

गहरा और काला धुवा उठता है👮‍♂️

 

amrita pritam quotes in hindi | amrita pritam quotes hindi | Inspirational Quotes by Amrita Pritam

 


रब बक्शे, न बक्शे

उसदी रजा

असी यार नू

सजदा कर बैठ।


मेरी रात जग रहीहै

तेरा ख्याल सो गया।


Amrita Pritam Love Quotes in Hindi

सपने- जैसे कोई भट्टियां है

हर भट्टी में आग झोंकता हुवा

मेरा इश्क मजदूरी करता है।

तेरा मिलना ऐसा होता है

जैसे कोई हथेली पर

एक वक्त की रोज़ी रखदे।️


पैर खोलो तो धरती अपनी है

पंख खोलो तो आसमान….


परछाईंयोंको पकड़ने वालो

छाती में जलती हुवी आग की

परछायी नहीं होती।

Amrita Pritam Love Quotes in Hindi


कुछ ख्वाहिशे बारिश की

उन बूंदो की तरह होतीहै

जिन्हे पानेकी चाहतमे

हटेलियाँ तो भीग जाती है।

मगर हाथ हमेशा खली रहते है……


दीवाने पैन के अंतिम शिखर पर

पैर रखकर खड़ा नहीं रहा जा सकता

पैरों पर बैठने के लिए

धर्तिका टुकड़ा चाहिए…


एक हद मुल्क की,

और नाप कर देखो

एक हद इल्म की

एक हद इश्क की

और फिर बताना

किसी हद कहा है…


कभी कभी मौत भी

जब एक किताब लिखती है

तो जिंदगीसे

एक भूमिका लिखवाने के लिए जाती है।____________________________________________________________________________________________________

इश्क फले तो फले ऐसा

सदियों तक फलता जाये

इश्क जले तो जले ऐसा

जिंदगी के बाद भी जिंदगियां महकाएं।


जहाँ भी आज़ाद रूह की झलक पड़े

समझना वह मेरा घर है।


देह कभी दुल्हन नहीं बनती

रूह कभी विधवा नहीं होती।


मैंने ख़ामोशी को लफ्ज दिए

तुमने लफ्जों को ही खामोश कर दिया।


तुम्हारा नाम छाला बन गया है जीभ पर

दुखता है जभ भी कुछ कहती हूँ।


Amrita Pritam Quotes in English


In the blink of an eye everything can change.

So forgive often and love with all your heart

You may never know when you may not have

that chance again.  Inspirational Quotes by Amrita Pritam


“Many stories are not written on Paper,

But they are written on the bodies and minds of women.”


“When a man denies the power of women,

he is denying his own subconscious”. Inspirational Quotes by Amrita Pritam


Amrita Pritam Quotes Hindi

____________________________________________________________________________________________________

धरती का दिल धड़क रहा है

सुना है आज टहनियों के घर

फूल मेहमान हुए हैं

तेरा मिलना ऐसे होता है

जैसे कोई हथेली पर

एक वक़्त की रोजी रख दे—अमृता प्रीतम


जहाँ भी

आज़ाद रूह की झलक पड़े

समझना वह मेरा घर हैअब सूरज रोज वक़्त पर डूब जाता है

और अँधेरा रोज़ मेरी छाती में उतर आता है.- अमृता प्रीतम


Amrita Pritam Quotes

वह देख! परे सामने उधर

सच और झूठ के बीच

कुछ ख़ाली जगह हैतड़प किसे कहते हैं,

तू यह नहीं जानती

किसी पर कोई अपनी

ज़िन्दगी क्यों निसार करता है-अमृता प्रीतम


मैं उस वक़्त का फल हूँ

जब आज़ादी के पेड़ पर

बौर पड़ रहा थातू अपना बदन भी उतार दे

उधर मूढ़े पर रख दे, कोई खास बात नहीं

बस अपने अपने देश का रिवाज़ है —अमृता प्रीतम


आँखों में कंकड़ छितरा गए

और नज़र जख़्मी हो गई

कुछ दिखाई नहीं देता

दुनिया शायद अब भी बसती हैपर यादों के धागे

कायनात के लम्हे की तरह होते हैं——अमृता प्रीतम


Amrita Pritam Quotes on Love in Hindi

उसने तो इश्क की कानी खा ली थी

और एक दरवेश की मानिंद उसने

मेरे श्वाशों कि धुनी राम ली थीतुम्हारी याद इस तरह आयी

जैसे गीली लकड़ी में से

गहरा और काला धूंआ उठता है

___________________________________________________________________________________________________

मेरी सेज हाज़िर है

पर जूते और कमीज़ की तरह

तू अपना बदन भी उतार दे

उधर मूढ़े पर रख दे

कोई खास बात नहीं

बस अपने अपने देश का रिवाज़ है

____________________________________________________________________________________________________

चिंगारी तूने दी थी

यह दिल सदा जलता रहा

वक़्त कलम पकड़ कर

कोई हिसाब लिखता रहा

____________________________________________________________________________________________________

फिर बरसों के मोह को

एक ज़हर की तरह पीकर

उसने काँपते हाथों से

मेरा हाथ पकड़ा

चल क्षणों के सिर पर

एक छत डालें

वह देख परे सामने उधर

सच और झूठ के बीच

कुछ ख़ाली जगह है

___________________________________________________________________________________________________

यह जो एक घड़ी हमने

मौत से उधार ली है

गीतों से इसका दाम चुका देंगे।

___________________________________________________________________________________________________

मैं चुप शान्त और अडोल खड़ी थी

सिर्फ पास बहते समुन्द्र में तूफान था

फिर समुन्द्र को खुदा जाने क्या ख्याल आया

उसने तूफान की एक पोटली सी बांधी

मेरे हाथों में थमाई और

हंस कर कुछ दूर हो गया

__________________________________________________________________________________________________

जो पल बीत चुके हैं,

वे शरीर पर पहने हुए कपड़ों की तरह नहीं हैं। 

वे शरीर पर तिल बन जाते हैं। 

वे जीभ से कुछ नहीं कहते,

बस शरीर पर चुपचाप लेटे रहते हैं।

__________________________________________________________________________________________________

“If you want to be useful in the world, you have to be like a river-continuously flowing.” “Dreaming is a form of thinking.”. Inspirational Quotes by Amrita Pritam

Read More

Helen Keller Quotes On Vision! Helen Keller Quotes About Death

Spread the love
x