25+Rahat Indori Best Shayari Status! Best Hindi Shayari Collection

Rahat Indori Best Shayari Status: Rahat Indori has given such beautiful lyrics in his lifetime to remember. It is difficult to say that this is Rahat Indori best sahayari. Rahat Indori’s lyrics, poems, and shayari are unique in imagination. Wo boolati hai magar janeka nahi…is one of his most famous lines in recent times.

We have tried to frame some of his easy to understand Hindi romantic shayari lines in this article to entertain you and to find most of his famous poems in one place.

Rahat Indori Best Shayari ! Hindi Collection

अगर खिलाफ है होने दो जान थोड़ी है ये सब धुआँ है कोई आसमान थोड़ी है लगेगी आग तो आएँगे घर कई जद में यहाँ पे सिर्फ हमारा मकान थोड़ी है
Agar Khilaf hai hone do jaan thodi hai ye sab dhuwa hai aasman thodihai lagegi aag toh ayenge ghar kai jad me yahan par sirf hamara makan thodi hai
हमारे मुह से जो निकले वही सदाकत है हमारे मुह में तुम्हारी जबां थोड़ी है में जानत हूँ के दुश्मन भी कम नहीं लेकिन हमारी तरह हथेली पे जान थोड़ी है
hamare muha se jo nikale wahi sada kat hai hamare muhame tumhari jaban thodi hai mai janta hoon ke dushman bhi kan nahi lekin hamari taraha hatheli pe jaan thodi hai
अभी इस तरफ न निगाह कर मे ग़ज़ल की पल्खें सवार लूँ मेरी लफ्ज लफ्ज में हो आइना तुझे आईने में उतर लूँ
Abhi Is Taraf Na Nigah Kar Mein Gajal Ki Palkein Sawaar Lun Meri Lafz Lafz Me Ho Aayina Tujhe Aaiyne Me Utaar Lun
Mein Jis Ki Khatir Mohabbaton Ki Har Ek Had Se Gujar Gaya Wo Ab Bhi Mujh Se Ye Puchta Hai Ke Such Batao Wafa Kroge
मे किसीके खातिर मोहब्बतों की हर एक हद से गुजर गया वो अबभी मुझसें ये पूछताहै के सच बता वफ़ा करोगे
तेरी हर बात मोहब्बत में गवारा कर के , दिल के बाज़ार में बैठे हैं ख़सारा कर के , आते जाते हैं कई रंग मेरे चेहरे पर , लोग लेते हैं मज़ा ज़िक्र तुम्हारा कर के.
Teri har baat mohabbat mai gawara kar ke dil ke bazar  me baithen hain ḳhasara kar ke aate jate hai kai rang mere chahare par log letehai maja zikar tumhara kar ke

Dr. Rahat Indori Best Love Shayari

 

Rahat Indori Love Shayari

Rahat indori romantic sharyari, Romantic Shayari by Rahat Indori

एक चिंगारी नज़र आई थी बस्ती में उसे , वो अलग हट गया आँधी को इशारा कर के।
ek chingari nazar aai thi basti me use wo alag haat gaya andhi ko ishara karke
आसमानों की तरफ फेंक दिया है मैंने चंद मिटटी के चरागों को सितारा करके
aasmano ki taraf phenk diya hai maine chand mitti ke charagonko sitara kar ke
मैं वो दरिया हूँ कि हर बूँद भँवर है जिस की, तुम ने अच्छा ही किया मुझ से किनारा कर के!
mai wo dariyan hoon ki har boond bhawarhai jiski tumne acchahi kiya mujhase kinara karke
 
मुन्तज़िर हूँ की सितारों की ज़रा आँख लगे, चाँद को छत पे बुला लूंगा, इशारा कर के….
Muntazir hoon ki sitaron ki zaera aank lage chaand ko chhat par bula lunga ishara karke
जबां तो खोल नज़र तो मिला जवाब तो दे मे कितने बार लूटा हूँ, हिसाब तो दे।
Juban To Khol Najar To Mila Jawab To De Mein Kitna Baar Luta Hun Hisaab To De

Rahat Indori Besh Shayari Status

 

Rahat Indori Best Shayari Status

Rahat Indori Best Shayari Status

 

तेरे बदन की लिखावट में हैं उतार चढाव, में तुझको कैसे पढूंगा, मुझे कोई किताब तो दे!

 

राहत इंदिरी प्यार वाली शायरी

 

Tere Badan Ki Likhawat Mein Hai Utaar Chadhao Mein Tujh Ko Kaise Padhunga Mujhe Koi Kitaab To De
 
फ़ैसले लम्हात के नस्लों पे भारी हो गए बाप हाकिम था मगर बेटे भिखारी हो गए
Faisle Lamhat Ke Naslon Pe Bhari Ho Gaye Baap Hakim Tha Par Bete Bikhari Ho Gaye
देवियां पहुंचीं थीं अपने बाल बिखराए हुए देवता मंदिर से निकले और पुजारी हो गए
Deviyan Pahunchithi apne baal bikharayen huwe dewata mandirse nikle aur pujari ho gaye.
  
रौशनी की जंग में तारीकियां पैदा हुईं चांद पागल हो गया तारे भिखारी हो गए
 
Raushni ke jang me tarikiyan paida huwi chaan pagal hogaya taare bhikari ho gaye
 

Rahat Indori Best Shayari Compilation

नर्म-ओ-नाज़ुक हल्के-फुल्के रूई जैसे ख़्वाब थे आंसुओं में भीगने के बअद भारी हो गए
 
Narm aur najuk halke fuke rui jaise kwab thee ansuon me bhigne ke baad bhari ho gaye.
  
अब जो बाज़ार में रखे हो तो हैरत क्या है जो भी देखेगा वो पूछेगा की कीमत क्या है
 
Ab Jo Baazaar Mein Rakhe Ho To Hairat Kyaa Hai Jo Bhii Dekhegaa Wo Poochhegaa Ki Keemat Kya Hai
   
राज़ जो कुछ हो इशारों में बता भी देना हाथ जब उससे मिलाना तो दबा भी देना

 

Rahat Indori Best Shayari

Rahat Indori Best Shayari on love,

 

Raaz Jo Kuchh Ho Ishaaron Mein Bata Bhii Dena Haath Jab Usse Milaana To Dabaa Bhii Dena
  

Best Hindi Shayari Collection

फूलों की दुकानें खोलो, खुशबू का व्यापार करो इश्क़ खता है तो, ये खता एक बार नहीं, सौ बार करो
Phoolon Ki Dukaane Kholo, Khushboo Ka Vyapar Karo Ishq Khata Hai To, Ye Khata Ek Baar Nahin, Sau Baar Karo
 
किसने दस्तक दी, दिल पे, ये कौन है आप तो अन्दर हैं, बाहर कौन है
 
Kisane Dastak Dee, Dil Pe, Ye Kaun Hai Aap to Andar Hain, Bahar Kaun Hai
 

Love Shayari In Hindi

गुलाब, ख्वाब ,दवा , जहर ,जाम क्या क्या है मे आगया हूँ बता इंतेज़ाम क्या क्या है।
Gulaab, Khuwaab, Dawa, Zehar, Jaam Kya Kya Hai Mein Aa Gaya Hu Bata Intezaam Kya Kya Hai
फकीर, शाह, कलंदर, इमाम क्या-क्या है, तुझे पता नहीं तेरा गुलाम क्या-क्या है? जमीं पे सात समंदर सरो पे सात आकाश, मैं कुछ नहीं तेरा एहतराम क्या-क्या है?
Fakir, Shah, Kalandar, Imaam Kya Kya Hai Tujhe Pata Nahi Tera Gulaam Kya Kya Hai Jami pe saat samandar, saron pe saat aakash, mai kuch nahi tera ehtaram kya kya hai.
  
सूरज, सितारे, चाँद मेरे साथ में रहें, जब तक तुम्हारे हाथ मेरे हाथ में रहें शाखों से टूट जाए वो पत्ते नहीं हैं हम, आंधी से कोई कह दे की औकात में रहें
Rahat Indori Best Shayari status
Suraj, sitaare, chaand mere saath me rahe        jab tak tumhare haath mere haath me rahe Shaakhon se toot jaaye wo patte nahi hain hum        aandhi se koi kah de ki aukaat me rahe
  
जितना देख आए हैं अच्छा है काफी है          अब कहाँ जाइयेगा दुनिया है यही काफी है हमसे नाराज़ है एक सूरज कि पड़े सोते हो           जाग उठने की तमन्ना है बस यही काफी है
  
jitna dekh aaye hain achha hai kaafi hai          ab kahaan jaayiyega duniya hai yahi kaafi hai humse naraaz hai ek suraj ki pde sote ho         jaag uthne ki tamanna hai bas yahi kaafi hai

Rahat Indori Motivational Shayari

सारी फितरत तो नकाबों में छुपा राखी थी सिर्फ तस्वीर उजालेंमे लगा राखी थी मेरे गर्दन पे तलवार थी दुश्मन की मेरी बाजुओं में मेरी माँ की दवाएं राखी थी यहाँ इमाम लिखते है यहाँ इमाम पढतेहै हमें कुछ और न पढ़ाओ हम क़ुरान पढ़ते है।
Saari Fitrat To Naqabon Mein Chupa Rakhi Thi Sirf Tasveer Uzaale Mein Laga Rakhi Thi Meri Gardan Pe Talwar Thi Duhsman Ki Meri Bajuwon Pe Meri Maa Ki Duwayen Rakhi Thi Yahan Imaam Likhte Hai Yahan Imaan Padthe Hain Hamein Kuch Aur Na Padhao Ham Quraan Padhte Hain
हौसले जिंदगी के देखते हैं चलिए कुछ रोज़ जी के देखते हैं नींद पिछली सदी की ज़ख़्मी है ख़्वाब अगली सदी के देखते हैं
Hausle Zindagi K Dekhate Hai Chaliye Kuch Roz Jee Ke Dikhate Hai Neend Pichhli Sadi Ki Zakhami Hai Khuwaab Agli Sadi Ke Dikhate Hai

 

ahat indori best shayari status

rahat indori best shayari in hindi,

 

तू जो चाहे तो तेरा झूठ भी बिक सकता है शर्त इतनी है कि सोने का तराज़ू रख ले
 
Tu Jo Chahe To Tera Jhoot Bhi Bik Sakta Hai Shart Itni Hai Ki Sone Ka Tarazu Rakh Le

Rahat Indori Best Shayari Lyrics

सफ़र की हद है वहां तक की कुछ निशान रहे , चले चलो की जहाँ तक ये आसमान  रहे ये क्या उठाये कदम और आ गयी मंजिल, मज़ा तो तब है के पैरों में कुछ थकान रहे
Safar ki had hain wahan tak ke kuch nishan rahe, chale chalo ke jahan tak ye asman rahe ye kya uthaye kadam aur aa gai manzil, maza to jab hain ke pairon may kuch thakan rahe
अगर ख़िलाफ़ हैं होने दो जान थोड़ी है, ये सब धुआँ है कोई आसमान थोड़ी है लगेगी आग तो आएँगे घर कई ज़द में,  यहाँ पे सिर्फ़ हमारा मकान थोड़ी है
 
agar khilaaf hai hone do jaan thodi hai, ye sab dhuaan hai aasman thodi hai, lagegi aag to aayenge ghar kai zad me, yahan pe sirf humara makan thodi hai
   

Point of View

Rahat Indori is a very popular Hindi Shayar (Poet). The uniqueness of his poetry is that it is related with the present situations. Though the poet was old when he composed his loving poems, his poems could catch the nerves of the younger generation.

Leave a Comment